राजस्थान के कोटा जिले मे पैदा हुआ एक भामाशाह पुलवामा में शहीद हुये जवानो को सहयोग के लिये देना चाहते है 110 करोड की राशि





कोटा- राजस्थान के कोटा जिले मे एक शख्स जो दिव्यांग व जन्म से नेत्रहीन होने के बाबजूद आज राजस्थान का सबसे बडे भामाशाह के रूप में पूरे प्रदेश भर में चर्चाओ में बने हुये है। जिन्होने पुलवामा हमले के दौरान शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के परिजनों को 110 करोड़ की सहयोग राशि देने की इच्छा जताई है।
दरअसल राजस्थान के कोटा निवासी मुर्तजा अली ने पुलवामा हमले के दौरान शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के परिजनों को 110 करोड़ की सहयोग राशि देने की इच्छा जताई है. . जिसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र  मोदी से मिलने का समय भी मांगा है. जो  पीएम मोदी से मिलकर 110 करोड रूपये यह राशि चैक के जरिए सौंपना चाहते है.
मुर्तजा ने 25 फरवरी को पीएमओ को संपर्क किया और अपनी इच्छा जाहिर की है कि वे  पुलवामा में हुए शहीदों के लिए पीएम राहत कोष में 110 करोड़ की सहयोग राशि देना चाहते है.
आपको बता दे कि मुर्तजा अली एक साइंटिस्ट है जो कि मुंबई में कार्यरत है. अली मूल रूप से कोटा के रहने वाले है. उन्होंने कोटा के कॉमर्स कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है. वे कोटा में स्टेशन क्षेत्र के रहने वाले हैं. मुर्तजा दिव्यांग है और 




No comments

Powered by Blogger.